Punjab-Chandigarh

Baba Rode Shah Mela Punjab, where Alcohol is offered as Parshad

समाज जिस पदार्थ को हिकारत की नजरों से देखता है, आस्था उसे भी प्रसाद बना देती है।ऐसी ही एक जगह है जहां  तकरीबन 2 लाख लीटर के करीब शराब चढ़ाई जाती है।और
ऐसा हर साल होता है गांव मजीठा से पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित गांव भोमा में बाबा रोेडे शाह की समाधि पर।
यहां हर साल मेला लगता है, और यहाँ दूर-दूर से लोग आते हैं।
 जिनकी मन्नत पूरी होती है, वो  यहां शराब चढ़ाता है और बाद में भक्तों की भारी भीड़ में बांट देता  है। हर साल ये मेला 23 और 24 मार्च को मनाया जाता है। इन दो दिनों में करीब 3 लाख श्रद्धालु यहाँ माथा टेकने के लिए उमड़ते  हैं ,और वही बुधवार को समाधि पर माथा टेकने के लिए  हजारों लोग लंबी लाइनों में लगकर अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे थे  ।और  वहीं कुछ भक्त तो शराब के नशे में मदहोश, हाथों में शराब की कैनियां, विदेशी देशी शराब की महंगी बोतलें लहराते हुए परिजनों के साथ लोग ढोल की थाप पर नाच रहे थे। इतना ही नहीं शराब का प्रसाद लेने वाले श्रद्धालुओं की संख्या भी कुछ कम नहीं थी।
रोडे शाह की समाधि
 के सेवक यहाँ के इतिहास के बारे में बताते है कि एक बार गांव के उजागर सिंह जिसकी औलाद नहीं थी। बाबा जी के पास आया और उन्होंने पुत्र की दात मांगी। और पुत्र की दात पूरी होने के बाद उजागर सिंह ने बाबा जी को खेत या 500 रुपये देने की बात कही, लेकिन बाबा जी ने मना कर दिया। बाबा जी ने उन्हें कहा,यहां जो संगत बैठी है, उनके लिए शराब ही ले आओ, जिसके बाद यहां शराब का भोग लगने लगा। यहां  भक्त की हर मनोकामना पूरी होती है।  और भक्त अपनी इच्छा से शराब चढ़ाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button